उत्तर प्रदेश

गन्ना क्रय केंद्रों पर छापे, पकड़ी गई घटतौली और बड़ी गड़बड़ी

मेरठ। क्षेत्रीय उप गन्ना आयुक्त और जिला गन्ना अधिकारी ने कई जगहों पर छापामार कार्रवाई की तो क्रय केंद्रों पर घटतौली के साथ कई अनियमितताएं होते मिलीं। पांच में से दो क्रय केंद्रों पर घटतौली पकड़ी और एक पर तौल लिपिक बिना वैध लाइसेंस के तौल करता पकड़ा गया। क्षेत्रीय उप गन्ना आयुक्त ने कहा कि इन सभी मामलों में सख्त वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।
क्षेत्रीय उप गन्ना आयुक्त हरपाल सिंह ने मेरठ जिले के पांच गन्ना क्रय केंद्रों बटजेबरा, डालूहेडा, कुराली प्रथम, जटपुरा डुगर, जानी खुर्द प्रथम का निरीक्षण किया। यह क्रय केंद्र दौराला, किनौनी और नंगलामल चीनी मिल से जुड़े हैं। डालूहेडा गन्ना क्रय केन्द्र पर उपस्थित तौल लिपिक के पास वैध लाइसेन्स ही नहीं मिला। इस परन पर तौल लिपिक के खिलाफ कार्यवाही की संस्तुति की गई है। दौराला चीनी मिल के केन्द्र बटजेवरा और किनौनी चीनी मिल के क्रय केन्द्र जटपुरा डूंगर में जांच के दौरान घटतौली पकड में आई। इन मामलों में शुगर केन ऐक्ट के प्रावधानों के अन्तर्गत कार्रवाई की जाएगी। गन्ना क्रय केन्द्रों पर अधिकारियों के मोबाइल नम्बर एवं अन्य आवष्यक सूचनाओं हेतु फ्लेक्स बोर्ड लगाने के निर्देश चीनी मिलों के प्रबंधकों को दिए हैं। साथ ही यह भी निर्देशित किया कि प्रत्येक गन्ना क्रय केन्द्र पर मानक बाट हर हाल में रखे जाएं। सर्दी से बचाव के अलाव की व्यवस्था की जाए। उप गन्ना आयुक्त, ने गन्ना क्रय केन्द्रों पर उपस्थित किसानों से पर्ची एवं एसएमएस. द्वारा गन्ना पर्ची प्राप्त होने का अनुश्रवण किया। किसानों द्वारा बताया गया कि उन्हे गन्ना तौल पर्ची प्राप्त हो रही है। साथ ही उनके मोबाइल नम्बर पर गन्ना तौल का एसएमएस भी प्राप्त हो रहा है। इस पर उप गन्ना आयुक्त ने चीनी मिलों को निर्देशित किया कि गन्ना तौल का एसएमएस कृषक द्वारा दिखाने पर भी तौल की जाये।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *