दिल्ली

पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत

नई दिल्ली। उत्तराखंड व उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री रह चुके नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी (40) का मंगलवार को डिफेंस कालोनी स्थित अपने घर में संदिग्ध परिस्थितियाें में मौत हो गई। वह सी-329 डिफेंस कालोनी में पत्नी अपूर्वा शुक्ला व मां उज्जवला शर्मा के साथ रहते थे।
दोपहर में घर में अचेत पाए जाने पर उपचार के लिए उन्हें मैक्स अस्पताल साकेत ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। उनके नाक से खून बह रहा था। शाम को उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए एम्स की मोर्चरी में रखवा दिया गया।
शुरूआती जांच में ब्रेन हैमरेज व हार्ट अटैक की बात कही गई मगर अस्पताल प्रबंधन व पुलिस अधिकारी का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से ही मौत के कारणाें की सही पुष्टि हो पाएगी।
रोहित तिवारी की मां उज्जवला तिवारी ने कहा कि उसकी मृत्यु स्वाभाविक कारणों से हुई है, मुझे किसी पर कोई संदेह नहीं है, ऐसा किन कारणों से हुआ यह मैं बाद में बताउंगी।
संयुक्त आयुक्त दक्षिण रेंज देवेश चंद्र श्रीवास्तव के मुताबिक डिफेंस कालोनी थाना पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है। रोहित की शादी पिछले साल 11 मई को मध्य प्रदेश की रहने वाली अपूर्वा से हुई थी।
मैक्स अस्पताल के डॉक्टरों का कहना है कि एनडी तिवारी के परिवार के सभी सदस्यों का इलाज इसी अस्पताल में होता रहा है। रोहित को उच्च रक्तचाप व मधुमेह आदि किसी तरह की बीमारी नहीं थी। कुछ साल पहले जब वह परिवार के किसी सदस्य का इलाज कराने मैक्स आए थे तब अचानक गिर पड़े थे।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *