उत्तर प्रदेश

फैशन की परियों के आगे फीकी पड़ी रोशनी

मेरठ। रंगीन रोशनी से नहाए रैंप पर फैशन की परियां एक-एक कर आती-जाती रहीं। परिधानों की लंबी फेहरिस्त को परियों ने शानदार ढंग से पेश करते हुए दर्शकों को मंत्रमुग्ध कर दिया। जैसे-जैसे रात गुजरी देश के विभिन्न कोनों से आई फैशन की इन परियों के कैटवॉक के आगे रोशनी फीकी पड़ती गई।
सुभारती कॉलेज ऑफ फाइन आर्ट एंड फैशन डिजाइन द्वारा मांगल्य प्रेक्षागृह में ‘डिजाइन कैसल 2019 का आयोजन कुछ इसी तरह से था। यूनिवर्सिटी की संस्थापिका डॉ.मुक्ति भटनागर, मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ.शल्या राज, कुलपति डॉ.एनके आहूजा, फाईन आर्ट कॉलेज के प्राचार्य प्रो.पिंटू मिश्रा और बॉलीवुड एक्टर भानी सिंह एवं मॉडल अक्सादी ने दीप प्रज्जवलित करके शो का शुभारंभ किया। डॉ.मुक्ति ने कहा कि सौन्दर्य भारतीय संस्कृति की पहचान है और वर्तमान में फैशन इंडस्ट्री सितारे की तरह जगमगा रही है। कुलपति डॉ.एनके आहूजा ने कहा कि फाईन आर्ट एवं फैशन डिजाइन के क्षेत्र में रोजगार की अपार संभावनाएं हैं।
डॉ.शल्या राज ने कहा कि खूबसूरती भारतीय सभ्यता का हिस्सा है और हमारे देश की विभिन्न संस्कृतियां अपनी छाप से सभी को प्रभावित करते हुए विश्वपटल पर भारत का नाम रोशन करती हैं। प्रो.पिंटू मिश्रा ने कहा कि शो में 20 राउंड में 80 महिला-पुरुष मॉडल ने रैम्प पर उतरकर अपना जलवा बिखेरा। उन्होंने कहा कि कलाकार बनने के लिए रचनात्मकता के साथ आत्मविश्वास एवं भारतीय संस्कृति से परिचित होना आवश्यक है। संयोजिका डॉ.रैना मेहता के अनुसार प्रसिद्ध कोरियोग्राफर कपिल गोहरी के नेतृत्व में इस शो में विभिन्न राउंड में रैम्प पर परिधान पेश किए गए। शो में दिल्ली, मेरठ, गाजियाबाद, मुजफ्फरनगर सहित विभिन्न राज्यों के मॉडलों ने अपने जलवे बिखेरे। डिजाइनर अब्दुल रहमान, निधि जैन, राधिका गौतम, नगेन्द्र चौधरी, आदि चौधरी, गौरव सिंह, यश अग्रवाल, सोनियां रमजादा और मोहित मेदायाल सम्मानित किए गए। शो में शाही लिबास, तुर्की स्टाइल, वाईन सनशाइन, वेडिंग, खादी, पंचतत्व, मधुबनी सहित 20 विधा के परिधानों को मॉडलों ने रैंप पर पेश किया। कार्यक्रम में प्रोवीसी डॉ.डीसी सक्सेना, कुलसचिव पीके गर्ग डॉ.भावना ग्रोवर, डॉ.पूजा गुप्ता, डॉ.मोहिनी, डॉ.प्रीती, डॉ.कविता, डॉ.सोनल, सनी शर्मा, पवनेन्द्र कुमार, कंचन गुप्ता मौजूद रही।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *