राजनीति

बोइंग की साख पर सवाल

इथियोपियन एयरलाइंस हादसे के बाद बोइंग 737 विमान संकट से घिर गए हैं। कई देशों में इनको असुरक्षित मानकर इनकी उड़ान पर रोक लगा दी गई है। इन देशों में चीन, ऑस्ट्रेलिया, इंडोनेशिया और सिंगापुर शामिल हैँ। इथियोपियन एयरलाइंस ने भी मैक्स 8 विमानों की उड़ान फिलहाल रोक दी है। पिछले रविवार को उड़ान भरने के कुछ ही मिनटों बाद हुए इस हादसे में 157 लोगों की मौत हो गई। हादसे का शिकार हुआ विमान बोइंग 737 मैक्स 8 था, जो एक नया विमान है। इथियोपियन एयरलाइंस के प्रवक्ता ने बताया कि एयरलाइन ने सभी आठ विमानों की उड़ान पर अगली सूचना तक रोक लगा दी है। एयरलाइन फिलहाल पांच विमान उड़ा रही थी, जिनमें से एक हादसे का शिकार हो गया। एयरलाइन 25 और विमानों की डिलीवरी का इंतजार कर रही है। उधर चीन की सरकारी विमानन कंपनी ने भी इन विमानों की उड़ान पर रोक लगा दी है। चीन के नागरिक विमानन प्रशासन ने अपने आदेश में कहा कि सुरक्षा पर जोखिम में जीरो टॉलरेंस के सिद्धांत के आधार पर प्रबंधन ने यह फैसला किया है।
चीन के विमानन प्रशासन ने कहा है कि वह अमेरिका के संघीय विमान प्रशासन और बोइंग से चर्चा के बाद इस बारे में और नोटिस जारी करेगा। चीन की सरकारी विमानन कंपनी 76 बोइंग 737 का उपयोग कर रही हैं और उसे 104 और विमानों का इंतजार है। भारत में जेट एयरवेज और स्पाइस जेट एयरलाइंस भी इन विमानों का उपयोग करते हैं। भारतीय मीडिया में ऐसी खबरें आ रही हैं कि नागरिक विमान प्राधिकरण ने इन एयरलाइनों से इस विमान के बारे में जानकारी मांगी है। आशंका जताई जा रही है कि भारत में भी इन विमानों के उड़ान पर तात्कालिक रोक लगाई जा सकती है। इससे पहले इंडोनेशिया के राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा विभाग ने इस हादसे की जांच में सहयोग की पेशकश की है। एथियोपियन एयरलाइंस हादसे की तरह ही इंडोनेशिया के लायन एयर जेट का विमान भी बीते साल उड़ान भरने के कुछ ही देर बाद हादसे का शिकार हो गया था। बोइंग कंपनी का मुख्यालय शिकागो में है। बोइंग 737 विमान एयरलाइन उद्योग के लिए काफी सफल विमान माना जाता रहा है। मैक्स 8 इसका नया संस्करण है। बोइंग ने करीब 350 मैक्स विमान दुनिया में बेचे हैं और इसके पास 5,000से ज्यादा विमानों का ऑर्डर है। लेकिन अब ये सब खटाई में पड़ सकते हैं।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *