दिल्ली

मोबाइल पर पता चल जाएगा कहां खाली है पार्किंग, जानें कैसे होगा ये संभव

नई दिल्ली | पार्किंग कहां खाली है, मेट्रो स्टेशन और बस स्टॉप कहां हैं, बस कितनी देर में आएगी, ये सभी जानकारियां आपको जल्द मोबाइल पर मिलेंगी।
दिल्ली सरकार सार्वजनिक परिवहन व्यवस्था से लोगों को जोड़ने और सड़कों पर निजी वाहनों के भीड़ को कम करने के मकसद से एक एप को विकसित करने की योजना पर काम कर रही है। इसके लिए समिति के गठन को मंजूरी भी दे दी गई है। सरकार के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, एप बनाने का मकसद लोगों को यह बताना है कि घर से निकलने के बाद उन्हें पार्किंग कहां मिलेगी। उसके नजदीक सार्वजनिक परिवहन (मेट्रो या बस) में से कौनसी सुविधा उपलब्ध होगी। अगर कोई बस जाना चाहता है तो उसे पार्किंग से नजदीकी बस स्टैंड के साथ उस स्टैंड पर आने वाली अगली बस की जानकारी भी मिलेगी। इसे लेकर मंगलवार को मुख्य सचिव ने एक बैठक की थी। बैठक में इसके लिए कमेटी बनाने को मंजूरी मिल चुकी है।
दिल्ली में रेडलाइट जंप करते ही मोबाइल पर पहुंच जाएगा चालान
परिवहन विभाग के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, ‘पूछो एप’ पहले से चल रहा है। इसपर बसों के लोकेशन की जानकारी उपलब्ध होती है। मगर डीटीसी बसों में अभी जीपीएस नहीं होने से उनकी लोकेशन की जानकारी देना मुश्किल है। डीटीसी बसों में जीपीएस लगाने का काम चल रहा है।
दिल्ली में वाहनों की बढ़ती भीड़ और सार्वजनिक परिवहन से लोगों को बढ़ती दूरियों को देखते हुए केंद्र की ओर से दिल्ली सरकार को निर्देश दिए गए हैं। इसमें पार्किंग नीति, मेट्रो स्टेशनों के पास ट्रैफिक मैनेजमेंट, पार्किंग की मैपिंग, 77 अलग-अलग कॉरिडोर के 100 इंटरसेक्शन के रेट्रोफिटमेंट, सड़कों पर बसों की संख्या बढ़ाना शामिल हैं। इसके अलावा बसों में जीपीएस व पार्किंग गाइड बनाकर एक मोबाइल एप विकसित करना था, जिसपर बसों के लोकेशन के साथ पार्किंग की जानकारी उपलब्ध हो।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *