दिल्ली

मौसम अपडेट: दिल्लीवासियों को भीषण गर्मी से मिलेगी राहत

नई दिल्ली| राजधानी के लोगों को अगले सप्ताहभर तक भीषण गर्मी से राहत रहेगी। पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता से दिल्ली में धूल भरी आंधी, बादल और हल्की बरसात का क्रम बना रहेगा। इससे तापमान में गिरावट का सिलसिला जारी रहेगा।
चक्रवाती तूफान के चलते हवा की बदली दिशा से दिल्ली के लोगों को भीषण गर्मी से कुछ राहत मिली है। सोमवार को जहां दिल्ली के पालम क्षेत्र में पारा 48 डिग्री सेल्सियस तक चला गया था, वहीं अरब सागर से आने वाली नम हवाओं के चलते तापमान में छह डिग्री सेल्सियस गिरावट आई है। मौसम विभाग के मुताबिक, अब लू के थपेड़ों वाले भीषण गर्मियों के दिन तत्काल लौटने की संभावना नहीं है। लिहाजा, अगले सात दिनों तक राजधानी के लोगों को भीषण गर्मी से राहत रहेगी।
गुरुवार को सुबह के समय दिल्ली के ज्यादातर हिस्सों में बादलों की आवाजाही लगी रही। हालांकि, दिन चढ़ने के साथ ही बादल गायब हो गए। लेकिन, तेज गति से बह रही नम हवाओं के चलते तापमान में ज्यादा इजाफा नहीं हुआ। मौसम विभाग के सफदरजंग स्थित केन्द्र में गुरुवार को अधिकतम तापमान 41.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किा गया, जो कि सामान्य से दो डिग्री ज्यादा है। जबकि, न्यूनतम तापमान 29 डिग्री सेल्सियस रहा जो सामान्य से एक डिग्री ज्यादा है। दिल्ली के सबसे गर्म रहने वाले क्षेत्र पालम में अधिकतम तापमान 42.9 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।
38 डिग्री सेल्सियस तक हो सकता है तापमान
मौसम विभाग के मुताबिक, पश्चिमी विभोभ की सक्रियता से अगले सात दिनों तक आंधी, बादल और बरसात का क्रम बना रहेगा। खासतौर पर मंगलवार और बुधवार को हल्की बरसात के अलग-अलग दौर आने की संभावना है। इससे तापमान में खासी गिरावट आएगी और यह 38 डिग्री सेल्सियस तक जा सकता है।
हवा साफ-सुथरी हुई
हवा की गति बढ़ने के चलते दिल्ली में प्रदूषण कम हुआ है। हवा पहले के मुकाबले साफ-सुथरी हुई है। केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के मुताबिक, गुरुवार को दिन में वायु गुणवत्ता सूचकांक 175 पर रहा। इस स्तर की वायु गुणवत्ता को मध्यम श्रेणी में रखा जाता है। विशेषज्ञों के मुताबिक, तेज हवा के चलते वातावरण में जमे धूल कण साफ हुए हैं। इससे वायु गुणवत्ता में सुधार हुआ है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *