सेहत

शरीर खोने लगता है संतुलन, जानिए इस बीमारी के शुरुआती 5 लक्षण

नई दिल्ली। पार्किंसंस की बीमारी तंत्रिका तंत्र से संबंधित बीमारी है, जो पीडि़त व्यक्ति के चलने-फिरने और अन्य सामान्य दैनिक कामकाज को प्रभावित करती है। इसे प्रोग्रेसिव डिसऑर्डर कहा जाता है क्योंकि यह धीरे-धीरे बढ़ता है। इस बीमारी के सटीक कारणों का अब तक पता नहीं चल सका है, मगर कुछ वैज्ञानिक अध्ययनों में इसके लिए आनुवांशिक कारणों को जिम्मेदार ठहराया गया है। अब तक हुए अध्ययनों में कहा गया है कि Parkinson’s की बीमारी तब होती है जब दिमाग में न्यूरॉन्स नाम की कुछ नर्व सेल्स धीरे-धीरे कम या मृत होने लगती हैं। आज 11 अप्रैल का World Parkinson’s Day पर आइए जानते हैं इस बीमारी के इन 5 शुरुआत लक्षणों के बारे में :
1. आराम से बैठे-बैठे अचानक हाथों में कंपन महसूस होने लगे तो सावधान होने की जरूरत है। यह कंपन शुरुआत में धीरे-धीरे होता और समय के साथ बढ़ने लगता है।
2. चलते-चलते अचानक झटका लगना और संतुलन खो जाना भी Parkinson’s बीमारी का लक्षण है। इसमें कई बार संतुलन न रहने से पीडि़त व्यक्ति अचानक गिर भी जाते हैं।
3. सामान्य बातचीत में अचानक आवाज धीमी हो जाना या आवाज कांपने लगना, हकलाना या बोलते-बोलते लड़खड़ाने लगना भी इसका एक लक्षण है।
4. इसके अन्य लक्षणों में पीडि़त व्यक्ति के मुंह से लार अधिक बहने लगती है। उसे खाना खाने और निगलने में तकलीफ होने लगती है। ऐसे लोगों को पेशाब रुक-रुककर होती है।
5. Parkinson’s प्रभावित व्यक्ति का चेहरा अचानक से भाव शून्य हो जाता है और उसकी आंखें चौड़ी हो जाती हैं, मानो वह किसी को घूर रहा हो। ऐसे लोगों को पसीना भी बहुत अधिक आने लगता है।

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *