Home साक्षात्कार

साक्षात्कार

साक्षात्कार
इस साल आर्थिक सर्वेक्षण का दायरा बढ़ाया गया है। हालांकि यह सातवां आर्थिक सर्वेक्षण होगा पर इसका सबसे बड़ा लाभ यह होगा कि सरकार के सामने देशवासियों की आर्थिक तस्वीर सामने आ जाएगी। इस बार का आर्थिक सर्वेक्षण कई मायनों में अलग स्थान रखता है। खासतौर से देश के सामने उभर रही आर्थिक चुनौतियों और […]Continue Reading
साक्षात्कार
कमलनाथ सरकार कोई अपने नेककर्मों और संघर्ष से नहीं बनी थी। यह बात पूरे देश और मध्य प्रदेश की जानकारी में है। भाजपा स्वयं कुछ सीटों पर निर्णय लेने में देर कर चुकी थी और कुछ निर्णय जनता के मनोनुकूल नहीं हुए। मध्य प्रदेश की सरकार अल्पमत में है। 11 दिसंबर 2018 को मध्य प्रदेश […]Continue Reading
साक्षात्कार
राजनीतिज्ञ अपना भरोसा खोते जा रहे हैं। अगर कहीं कोई एक प्रतिशत ईमानदारी दिखती है तो आश्चर्य होता है कि यह कौन है ? पर हल्दी की एक गांठ लेकर थोक व्यापार नहीं किया जा सकता है। यही लोकतांत्रिक व्यवस्था में सबसे बड़ा संकट है। अहमदाबाद शहर में नरोदा से भाजपा विधायक बलराम थवानी का […]Continue Reading
साक्षात्कार
अंतिम फैसला अमित शाह और नरेन्द्र मोदी को ही करना है बावजूद इसके कैलाश और उनके खास कार्यकर्ताओं को इस बात की उम्मीद जरूर है कि उन्हें पश्चिम बंगाल में मिली सफलता का तोहफा अध्यक्ष पद के रूप में अवश्य ही मिलेगा। लोकसभा चुनाव के नतीजों ने जहां पूरे देश को चौंका दिया वहीं अमित […]Continue Reading
साक्षात्कार
देश की आधी से ज्यादा आबादी गरीबी की जीवन रेखा से जीवनयापन करने को विवश है। बड़ी आबादी के पास दो वक्त का खाना, बिजली, पानी, सड़क, स्कूल, अस्पताल और परिवहन जैसी बुनियादी सुविधाएं उपलब्ध नहीं हैं। नवगठित भाजपा गठबंधन सरकार ने देश के समग्र विकास की दिशा में कदम बढ़ाते हुए पहली कैबिनेट की […]Continue Reading
साक्षात्कार
मायावती ने फिलहाल सपा से संबंध तोड़ने की बात तो नहीं की है लेकिन यह जरूर साफ कर दिया है कि वह अपने हिसाब से चलेंगी। इसी तरह बसपा सुप्रीमो 2007 के हिट फार्मूले ”सर्वजन हिताय, सर्वजन सुखाय” को फिर से धार देना चाहती हैं। उत्तर प्रदेश में कल तक मजबूत दिख रहे सपा−बसपा गठबंधन […]Continue Reading
साक्षात्कार
गौरतलब है कि 2015 में पीसीएस जैसी परीक्षा का पेपर परीक्षा के कुछ घंटे पहले ही लीक हो गया था। आयोग ने 10 मई को प्रथम प्रश्न पत्र की परीक्षा दोबारा कराई। यह आयोग की सबसे विवादित परीक्षाओं में एक मानी जाती है। पेपर लीक मामले की एफआईआर लखनऊ के कृष्णानगर थाने में दर्ज करवाई […]Continue Reading
साक्षात्कार
यह हैरत और अफ़सोस की ही बात है कि जिस देश में, समाज में पेड़-पौधों को पूजने की प्रथा रही है, अब उसी देश में, उसी समाज में पेड़ कम हो रहे हैं। बदलते दौर के साथ लोगों का प्रकृति से रिश्ता टूटने लगा। जब से दुनिया शुरू हुई है, तभी से इंसान और क़ुदरत […]Continue Reading
साक्षात्कार
विश्व कप के प्रबल दावेदार के तौर पर देखी जा रही टीम इंडिया के पास महेंद्र सिंह धोनी का अनुभव है और कप्तान कोहली का क्लॉस। हालांकि 2013 के चैंपियंस ट्रॉफी पर नजर डाली जाए तो महेंद्र सिंह धोनी ने रोहित शर्मा को ओपन करने के लिए पूछा था और रोहित ने कहा मैं तैयार […]Continue Reading
साक्षात्कार
बीजपी में एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत को सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण माना जाता है। अर्थात् एक ही व्यक्ति दो पदों पर काम नहीं कर सकता है। 2014 में भी राजनाथ सिंह को इसी नीति के तहत पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पद से इस्तीफा देना पड़ा था। साल 2009, लोकसभा चुनाव से ठीक पहले मोहन […]Continue Reading